Popular Posts

Tuesday, 3 May 2016

राजनीति सर्वत्र व्याप्त है

राजनीति सर्वत्र व्याप्त है ,
आप के खाने 
आपके पीने
आपके भगवान
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
आपके रिश्ते 
आपके मित्र
आपकी पसंद
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
आपका काम
आपका शहर
आपका मोहल्ला
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
आपकी आपदा
आपकी खुशी
आपकी समस्या
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
आपका जन्म
आपका मरण
आपका जीना
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
आपके आराध्य
आपके पूजा के ढंग
आपके पूजा स्थल
यह सब राजनीति से तय होने लगे हैं
-----विनोद भगत

No comments:

Post a Comment